पैसा जरूरत का लालच

By Samriddhy Jindal
Apr 01 2019 1 min read

हर व्यक्ति की अपनी अपनी सोच होती है कि वह किसी भी चीज को किस नजरिए से देखता है। कोई वस्तु किसी के लिए जरूरत हो सकती हैं तो वहीं बस तू किसी के लिए कोई मायने नहीं रखती। पैसा अपने आप में बहुत बड़ी चीज है सारी दुनिया उसके पीछे हैं इसके बिना जीवन की जरूरतें पूरी नहीं हो सकती।माना पैसा सब कुछ नहीं होता पर बहुत कुछ से ज्यादा होता है ।जहां यह ज्यादा होता है वहां लोग उसकी कदर नहीं करते और जहां लोग पाई -पाई के मोहताज होते हैं वहां इसकी

6 Reads
 5 Likes
Report

 

Reviews:

 

We truly have become materialistic. Very well expressed.
Very apt in today's time. Congratulations for this simple yet important realisation.